Russia Ukraine Crisis : रूसी सेना ने ओडेसा में 21 मौतों के बाद माइकोलीव को हिलाया, पूर्वी शहर पर तेज किए हमले


ख़बर सुनें

रूसी मिसाइलों ने ओडेसा में आवासीय इमारत पर हमला कर 21 लोगों की जान लेने के बाद रूस-यूक्रेन युद्ध के 129वें दिन माइकोलीव शहर को हिला दिया। इसके अलावा रूसी सेना ने लुहांस्क प्रांत में यूक्रेन के अंतिम गढ़ लिसिचंस्क शहर व उसके आसपास के क्षेत्रों पर कब्जे के लिए गोलाबारी तेज कर दी है।

माइकोलीव के एक अपार्टमेंट ब्लॉक और अन्य क्षेत्रों के शॉपिंग मॉल में रूसी मिसाइल हमलों में दर्जनों के मारे जाने की आशंका है लेकिन हालात बिगड़े होने के कारण अभी संख्या का पता नहीं चल पाया है। माइकोलीव के उन क्षेत्रों में हवाई हमले के सायरन बजाए गए जो ओडेसा के काला सागर बंदरगाह सीमा में हैं। हालांकि रूस ने शनिवार को कहा कि उसने क्षेत्र में सेना की कमान चौकियों को निशाना बनाया है। उधर, लुहांस्क के गवर्नर सेरही हैदई ने दावा किया कि क्षेत्र में भीषण लड़ाई जारी है। 

लिसिचंस्क का बाहरी क्षेत्र रूसी कब्जे में
रूसी रक्षा मंत्रालय ने बताया, उसने हाल ही में लिसिचंस्क के बाहरी क्षेत्र में स्थित तेलशोधन कारखाने पर कब्जा कर लिया है। यहां यूक्रेनी लड़ाके हफ्तों से शहर को रूसी कब्जे में जाने से बचाने की कोशिश में जुटे हैं क्योंकि पड़ोसी सेवेरोदोनेस्क क्षेत्र पहले ही रूसी नियंत्रण में जा चुका है। शनिवार को यहां गोलाबारी तेज हो गई।

नागरिक स्थलों पर जानबूझकर निशाना : यूक्रेन
कीव ने बताया, मॉस्को ने अग्रिम पंक्ति से दूर के लक्ष्यों पर मिसाइल हमले बढ़ा दिए हैं और वह जानबूझकर नागरिक स्थलों को निशाना बना रहा है। उधर, रूसी सेनाएं पूर्व में बढ़त हासिल कर तोपखाने से शहरी क्षेत्रों पर मार कर रही है। क्रेमलिन प्रवक्ता दिमित्री पेसकोव ने कहा, रूसी बल नागरिक लक्ष्यों पर निशाना नहीं साध रहे।

यूक्रेनी सेना की चौकियों को नष्ट किया : रूस
रूस के रक्षा मंत्रालय ने शनिवार को कहा कि उसने माइकोलीव और पूर्वी दोनबास क्षेत्र में यूक्रेनी सेना की चौकियों को उच्च-सटीक हथियारों से नष्ट कर दिया और दक्षिणी जपोरिज्झिया क्षेत्र व उत्तर में खारकीव में सैन्य-संबंधित अन्य साइटों पर हमला किया है।

जेलेंस्की की अर्जेंटीना, चिली के राष्ट्रपतियों से वार्ता
यूक्रेनी राष्ट्रपति वोलोदिमीर जेलेंस्की ने लैटिन अमेरिका से समर्थन हासिल करने के अपने अभियान पर जोर देते हुए अर्जेंटीना और चिली के नेताओं से फोन पर बात की। जेलेंस्की ने ट्वीट किया, मैं लैटिन अमेरिका से निरंतर रिश्ते रखना चाहता हूं। 

स्नैक द्वीप पर फॉस्फोरस बम दाग रहा रूस
हालांकि यूक्रेनी सेना ने दो दिन पूर्व रूसी सेना को स्नैक द्वीप से पीछे हटने को मजबूर कर दिया था लेकिन अब यहां रूसी सेना फॉस्फोरस बम दाग रही है। यह आरोप यूक्रेन ने लगाते हुए कहा, रूस-यूक्रेन के बीच काला सागर में मौजूद स्नैक द्वीप रणनीतिक लिहाज से काफी अहम है।

रूसी मिसाइलों ने ओडेसा में आवासीय इमारत पर हमला कर 21 लोगों की जान लेने के बाद रूस-यूक्रेन युद्ध के 129वें दिन माइकोलीव शहर को हिला दिया। इसके अलावा रूसी सेना ने लुहांस्क प्रांत में यूक्रेन के अंतिम गढ़ लिसिचंस्क शहर व उसके आसपास के क्षेत्रों पर कब्जे के लिए गोलाबारी तेज कर दी है।

माइकोलीव के एक अपार्टमेंट ब्लॉक और अन्य क्षेत्रों के शॉपिंग मॉल में रूसी मिसाइल हमलों में दर्जनों के मारे जाने की आशंका है लेकिन हालात बिगड़े होने के कारण अभी संख्या का पता नहीं चल पाया है। माइकोलीव के उन क्षेत्रों में हवाई हमले के सायरन बजाए गए जो ओडेसा के काला सागर बंदरगाह सीमा में हैं। हालांकि रूस ने शनिवार को कहा कि उसने क्षेत्र में सेना की कमान चौकियों को निशाना बनाया है। उधर, लुहांस्क के गवर्नर सेरही हैदई ने दावा किया कि क्षेत्र में भीषण लड़ाई जारी है। 

लिसिचंस्क का बाहरी क्षेत्र रूसी कब्जे में

रूसी रक्षा मंत्रालय ने बताया, उसने हाल ही में लिसिचंस्क के बाहरी क्षेत्र में स्थित तेलशोधन कारखाने पर कब्जा कर लिया है। यहां यूक्रेनी लड़ाके हफ्तों से शहर को रूसी कब्जे में जाने से बचाने की कोशिश में जुटे हैं क्योंकि पड़ोसी सेवेरोदोनेस्क क्षेत्र पहले ही रूसी नियंत्रण में जा चुका है। शनिवार को यहां गोलाबारी तेज हो गई।

Agency,



Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published.