Ram Navami 2022 : चैत्र नवरात्रि में इस दिन मनाई जाएगी राम नवमी, जानें तिथि और पूजा का शुभ मुहूर्त

Lord Ram Birthday 2022 : चलिए आपको बताते हैं कि इस साल रामनवमी कब होगी और पूजा का क्या रहेगा शुभ मुहूर्त.

Importance Of Ram Navami : भगवान राम के जन्मदिन के रूप में राम नवमी का पर्व मनाया जाता है. पंचांग के मुताबिक चैत्र मास की शुक्ल पक्ष की तिथि को राम नवमी (Ram Navami) मनाई जाती है. हम सभी जानते हैं कि हिंदू धर्म में राम नवमी के पर्व का बेहद खास महत्व है. इस दिन मर्यादा पुरुषोत्तम प्रभु श्रीराम का जन्म अयोध्या में राजा दशरथ के घर पर हुआ था. इस दिन भगवान राम की पूरे विधि विधान से पूजा की जाती है. कहते हैं कि इस दिन जो भी भक्त पूरे भक्तिभाव और विधि विधान से मर्यादा पुरुषोत्तम राम की पूजा करते हैं उनके जीवन में सुख, समृद्धि और शांति आती है. इस साल चैत्र नवरात्रि (Chaitra Navratri 2022) की शुरुआत 2 अप्रैल 2022 से होने जा रही है. तो चलिए आपको बताते हैं कि इस साल राम नवमी कब होगी और पूजा का क्या रहेगा शुभ मुहूर्त (Ram Navami 2022 Shubh Muhurat).

यह भी पढ़ें

f8n1esq8

 रामनवमी 2022 की तिथि और पूजा का मुहूर्त

 इस साल चैत्र नवरात्र की आरंभ 2 अप्रैल से होने जा रहा है. हिंदू कैलेंडर के मुताबिक चैत्र माह के शुक्ल पक्ष की नवमी तिथि को यानी कि 10 अप्रैल दिन रविवार को  रामनवमी मनाई जाएगी. 10 अप्रैल को दोपहर 1 बजकर 23 मिनट से नवमी की तिथि शुरू होगी जो अगले दिन 11 अप्रैल सोमवार को दिन के 3 बजकर 15 मिनट तक रहेगी. इस दिन पूरे देश के साथ अयोध्या में भी धूमधाम से राम जन्मोत्सव मनाया जाएगा और भक्त व्रत रख भगवान की पूजा करेंगे.

ram navami

इस दिन है रामनवमी 2022, ये है शुभ मुहूर्त 

  •  रामनवमी 2022- 10 अप्रैल, 2022, दिन रविवार
  • रामनवमी तिथि की शुरुआत- 10 अप्रैल 2022 सुबह 1 बजकर 32 मिनट से 
  • रामनवमी तिथि की समाप्ति- 11 अप्रैल 2022 सुबह 3 बजकर 15 मिनट तक
  • शुभ मुहूर्त- 10 अप्रैल 2022, 11 बजकर 10 मिनट से 10:32 तक
iii4lk0g

रामनवमी का महत्व 

 नवमी का पर्व रामायण काल से मनाया जा रहा है. इस दिन पूरे देश में मर्यादा पुरुषोत्तम प्रभु श्रीराम का जन्म दिवस धूमधाम से मनाया जाता है. मान्यता है कि रामनवमी के दिन मां भगवती और श्रीराम की पूजा पूरे विधि विधान से करने वाले भक्तों को मनोवांछित फल की प्राप्ति होती है और उनके जीवन से कष्टों का नाश होता है. रामनवमी के साथ नवरात्रि का समापन भी किया जाता है. यही वजह है कि इस दिन कई लोग कन्या पूजन कर माता रानी की आराधना करते हैं. पूरे देश में तो रामनवमी का पर्व धूमधाम से मनाया ही जाता है लेकिन अयोध्या में रामनवमी के मौके पर भव्य कार्यक्रम और मेले आयोजित किए जाते हैं.

(Disclaimer: यहां दी गई जानकारी सामान्य मान्यताओं और जानकारियों पर आधारित है. एनडीटीवी इसकी पुष्टि नहीं करता है.)

मदुरै में धूमधाम से निकली रथ यात्रा, हजारों श्रद्धालु हुए शामिल

Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published.