KGF Chapter 2: रॉकी के चाहने वालों के लिए जबर खुशखबरी, सिनेमाघरों में इस दिन फिर से रिलीज होने जा रही ‘केजीएफ चैप्टर वन’

फिल्म ‘अटैक पार्ट वन’ के बाद दो हफ्ते तक किसी बड़ी फिल्म की रिलीज तय न होने का फायदा अब फिल्म ‘केजीएफ’ के निर्माता उठाने जा रहे हैं। कन्नड़ सिनेमा के इतिहास की सबसे बड़ी हिट फिल्म बन चुकी ‘केजीएफ चैप्टर वन’ फिर से रिलीज होने जा रही है और वह भी पहली बार घटी दरों पर। फ्रेंचाइजी फिल्म सीरीज की नई कड़ी की रिलीज से पहले पिछली फिल्म को घटी दरों पर दिखाने का ये प्रयोग अनूठा है। देश में पुरानी फिल्मों को फिर से रिलीज करने की सिने इतिहास में लंबी परंपरा को मल्टीप्लेक्स मालिकों ने बंद कर दिया था। एक जमाना ऐसा भी रहा है जब पुरानी हिट फिल्में घटी दरों पर रिलीज होने पर भी नई फिल्मों से ज्यादा कमाई बॉक्स ऑफिस पर कर लिया करती थीं।

दो घंटे 48 मिनट की फिल्म

‘केजीएफ 2’ या कहें कि ‘केजीएफ चैप्टर 2’ को लेकर देश विदेश में बने माहौल के बीच शुक्रवार को फिल्म के सेंसर से पास होने की खबर आई और साथ ही जानकारी ये भी मिली कि इस फिल्म को सेंसर से यूए सर्टिफिकेट मिला है। फिल्म की अवधि करीब दो घंटे 48 मिनट बताई जा रही है। ‘केजीएफ’ दो घंटे 35 मिनट लंबी पिक्चर थी और इसने अपनी रिलीज पर करीब सवा दो सौ करोड़ रुपये की कमाई दुनिया भर में की थी।

यश 1 अप्रैल से देश भ्रमण पर

फिल्म ‘केजीएफ 2’ का माहौल अभी से बनना शुरू हो गया है जबकि फिल्म को रिलीज होने में अभी दो हफ्ते बाकी है। फिल्म के मुख्य अभिनेता 1 अप्रैल से ही फिल्म के प्रचार के लिए देशव्यापी भ्रमण पर निकल रहे हैं। शुक्रवार को वह दिल्ली में लोगों से मिलेंगे। वहां की मीडिया के लिए भी उनकी टीम ने काफी बड़ा प्लान इंटरव्यूज आदि के लिए बनाया है। यश ने भी इस बीच काफी अच्छी हिंदी सीखी है और वह कोशिश करते हैं कि हिंदी में बोलने वाले पत्रकारों के जवाब हिंदी में ही दें।

8 अप्रैल को रिलीज होगी ‘केजीएफ 1’

यश की उत्तर भारत में लोकप्रियता और ‘केजीएफ’ फ्रेंचाइजी की दोनों फिल्मों की रिलीज के बीच कोरोना संक्रमण के चलते बने लंबे अंतराल को देखते हुए इसके निर्माताओं ने दर्शकों को  ‘केजीएफ 2’ से पहले की कहानी फिर से याद दिलाने के लिए पहली फिल्म को फिर से रिलीज करने का फैसला किया है। ये फिल्म सभी मुख्य भारतीय भाषाओं में 8 अप्रैल को सिनेमाघरों में रिलीज होने जा रही है। खास बात ये रहेगी कि इस फिल्म को दिखाने वाले सिनेमाघर अपनी टिकटों के रेट आम दिनों की अपेक्षा काफी कम रखेंगे। सिनेमा की भाषा में इसे किसी फिल्म का ‘घटी दरों पर’ रिलीज होना कहते हैं।

कोलाबा से कोलार गोल्ड फील्ड्स तक

‘केजीएफ’ सीरीज की कहानी मुंबई में पले बढ़े रॉकी की कहानी है। गरीबी में पैदा हुआ और अपराधियों के बीच रहते हुए बेखौफ कातिल बना रॉकी पहली फिल्म में मुंबई के पूरे माफिया पर कब्जा कर लेता है। इसके बाद वह निकलता है कोलार गोल्ड फील्ड्स (केजीएफ) की तरफ और वहां मजदूरों के तरह रहकर तैयारी करता है इन खानों के भविष्य के उत्तराधिकारी गरुण को मारने की। फिल्म के दूसरे संस्करण में कहानी इन्हीं खानों में रहते हुए रॉकी के गरीबों का मसीहा बनने की है। फिल्म में यश के साथ श्रीनिधि शेट्टी और प्रकाश राज के अलावा संजय दत्त और रवीना टंडन भी हैं। फिल्म कन्नड़ के साथ साथ हिंदी, तमिल, तेलुगू और मलयालम में भी रिलीज होने जा रही है।

Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published.