Janmashtami 2022: मथुरा-बरसाना के कृष्ण जन्मोत्सव में होना चाहते हैं शामिल, तो ऐसे करें बजट में ट्रिप प्लान


Janmashtami 2022: भगवान विष्णु के अवतार श्री कृष्ण का जन्म रोहिणी नक्षत्र और अष्टमी तिथि को हुआ था। हर साल भाद्र माह की अष्टमी को कृष्ण जन्माष्टमी का पर्व मनाते हैं। इस बार कृष्ण जन्माष्टमी 18 और 19 अगस्त को है। वैसे तो कृष्ण जन्माष्टमी की धूम पूरे देश में रहती है लेकिन जहां कान्हा का जन्म हुआ, वहां का नजारा ही कुछ अलग होता है। कृष्ण के जन्म मथुरा में हुआ था और बचपन गोकुल वृंदावन में बीता। बरसाना में राधा रानी रहती थीं, जो कि कान्हा कि प्रेमिका थीं। ऐसे में उत्तर प्रदेश की इन जगहों पर कृष्ण जन्माष्टमी का बहुत ही भव्य उत्सव होता है। कृष्ण जी की खास आरती से लेकर जगह जगह उनके जन्म को लेकर खास पूजा और उत्सव मनाया जाता है। कृष्ण जन्माष्टमी शुक्रवार को है, इसके बाद वीकेंड है। ऐसे में अगर आप जन्माष्टमी के मौके पर कहीं घूमने की योजना बना रहे हैं, तो मथुरा वृंदावन जा सकते हैं। यहां आप देवकीनंदन के जन्मोत्सव में शामिल हो सकेंगे। मथुरा बरसाना की ट्रिप कम बजट और दो से तीन दिन में घूमने के लिए यहां आपको कुछ टिप्स दिए जा रहे हैं।

दो दिन में कैसे घूमें मथुरा-वृंदावन और बरसाना

उत्तर प्रदेश में स्थित मथुरा का सफर करने के लिए दिल्ली से महज ढाई से तीन घंटे का रास्ता है। आप यमुना एक्सप्रेस वे से बस या खुद की गाड़ी से यात्रा कर सकते हैं। वैसे तो यहां कई प्रसिद्ध मंदिर हैं लेकिन दो दिन की ट्रिप पर आ रहे हैं तो मथुरा वृंदावन के कुछ सबसे प्रसिद्ध मंदिरों और चुनिंदा जगहों को घूमने के लिए जा सकते हैं।

मथुरा-वृंदावन के ट्रिप का खर्च

मथुरा- वृंदावन में घूमने और रहने का खर्च कम है। आप दो दिन के लिए यहां आ रहे हैं तो बस के जरिए मथुरा पहुंचे। इसके लिए सबसे सस्ता बस टिकट 200 रुपये का है। ट्रेन का किराया लगभग 2000 रुपये आएगा। मथुरा में रहने और खाने का खर्च अधिक नहीं है लेकिन अगर जन्माष्टमी के समय यहां पहुंच रहे हैं तो पहले से होटल में बुकिंग करा लें, क्योंकि इस समय दूर दराज से लोग कृष्ण जन्मोत्सव में शामिल होने के लिए पहुंचते हैं। आपको 500 से लेकर 3000 रुपये तक में होटल में कमरा मिल सकता है। 500 से 1000 रुपये तक खाने का खर्च आ सकता है।

कैसे घूमे मथुरा वृंदावन

मथुरा वृंदावन की सकरी गलियों में कई सारे मंदिर हैं। ये सारे मंदिर कान्हा की मौजूदगी का अहसास कराते हैं। वहां पहुंचकर गाड़ी होटल में खड़ी कर सकते हैं और मंदिरों को स्थानीय टैक्सी या ई रिक्शा की मदद से घूम सकते हैं। महज 300 से 500 रुपये में ई रिक्शा चालक आपको 5 से 6 प्रसिद्ध मंदिरों के दर्शन कराते हैं। एक दिन में आप कम समय में कई दार्शनिक स्थल घूम सकते हैं। इसके अलावा यमुना घाट पर स्नान के लिए जा रहे हैं तो वहां प्रति व्यक्ति नौका विहार के लिए 20 से 30 रुपये किराया हो सकता है। 

मथुरा वृंदावन के महत्वपूर्ण मंदिर

  • कृष्णजन्म भूमि
  • बांके बिहारी मंदिर
  • रंगनाथ मंदिर
  • प्रेम मंदिर
  • द्वारिकाधीश मंदिर
  • इस्काॅन मंदिर
  • निधिवन
  • गोवर्धन पर्वत
  • कुसुम सरोवर 
  • यमुना घाट 



Source link

Leave a Reply