Google: गूगल के डेटा सेंटर में बड़ा हादसा, शार्ट सर्किट से लगी आग में तीन कर्मचारी झुलसे, हालात गंभीर


Image Source : INDIA TV
Google accident

Highlights

  • अमेरिका के काउंसिल ब्लफ्स डेटा सेंटर में हुआ हादसा
  • सोमवार को स्थानीय समयानुसार सुबह 11:59 बजे हुआ हादसा
  • जिससे तीनों इलेक्ट्रीशियन गंभीर रूप से झुलस गए।

Google: सर्च इंजन गूगल के अमेरिका स्थित काउंसिल ब्लफ्स डेटा सेंटर में हादसे की खबर सामने आ रही है। मीडिया में आई ख़बरों के अनुसार शार्ट सर्किट की वजह से धमाका हुआ है। इस हादसे में गूगल के तीन कर्मचारी गंभीर से घायल बताये जा रहे हैं। हादसे के बाद सभी घायलों को अस्पताल में भर्ती कराया गया है।

काउंसिल ब्लफ्स पुलिस विभाग ने बताया कि यह घटना सोमवार को स्थानीय समयानुसार सुबह 11:59 बजे हुई। डेटा सेंटर की इमारतों के करीब एक सबस्टेशन पर तीन इलेक्ट्रीशियन काम कर रहे थे, जब एक आर्क फ्लैश (एक इलेक्ट्रिक विस्फोट) हुआ, जिससे तीनों इलेक्ट्रीशियन गंभीर रूप से झुलस गए।

घायलों को अस्पताल में भर्ती कराया गया 

एक रिपोर्ट के अनुसार, घायलों में एक व्यक्ति को हेलीकॉप्टर से नेब्रास्का मेडिकल सेंटर ले जाया गया, जबकि दो अन्य को एम्बुलेंस से अस्पताल पहुंचाया गया। नेब्रास्का मेडिकल सेंटर काउंसिल ब्लफ्स से थोड़ी दूरी पर है, जो आयोवा-नेब्रास्का सीमा पर पड़ता है। काउंसिल ब्लफ्स पुलिस विभाग के अनुसार, जब उन्हें मेडिकल इमरजेंसी के लिए ले जाया गया, तो तीनों लोग होश में थे और सांस ले रहे थे। अभी उनके लेटेस्ट हेल्थ अपडेट का इंतजार किया जा रहा है।

कहां-कहां हैं गूगल के डेटा सेंटर?

आपको बता दें कि ई तरह के देता सेंटरों में गूगल बड़ी बड़ी ड्राइव्स और कंप्यूटर में देता स्टोर करता है। यहां अंदरूनी और बाहरी नेटवर्क सुविधाएं, कूलिंग के इंतजाम और कई किस्म के सॉफ्टवेयरों का एक बड़ा सा सीक्रेट कैंपस गूगल डेटा सेंटर की शक्ल में दिखाई देता है। ये डेटा सेंटर दुनियाभर में कई जगहों पर गूगल ने बनाए हैं। उत्तर अमेरिका में बर्कले काउंटी, काउंसिल ब्लफ्स, डगलस काउंटी, जैक्सन काउंटी, लेनोइर, मांटगोमरी काउंटी, माएज काउंटी, द डैललेस, हैंडरसन और रेनो में एक एक गूगल सेंटर है।

इसके इलावा दक्षिण अमेरिका में चिली के क्विलिकुरा और सेरिलॉस में दो, उरुग्वे के कोलोनिया निकोलिच में एक डेटा सेंटर बना है। यूरोप के बेल्जियम के सेंट गिजलेन, फिनलैंड के हैमिना, आयरलैंड के डब्लिन, नीदलैंड्स के ईमशेवन और एग्रीपोर्ट, डेनमार्क के फ्रेडरिशिया, स्विटज़रलैंड के ज्यूरिक और पोलैंड के वारसॉ में भी गूगल के डेटा सेंटर बने हुए हैं। वहीं अगर एशिया की बात करें तो सिंगापुर के जुरोंग वेस्ट, ताइवान के चेंगहुआ काउंटी, ताइनान सिटी और युनलिन काउंटी में और भारत के मुंबई में भी एक गूगल डेटा सेंटर बना है। 

Latest World News





Source link

Leave a Reply