BJP Leader Killed in Tamil Nadu: तमिलनाडु में भाजपा नेता की नृशंस हत्या, बदमाशों ने सैकड़ों बार किया चाकू से वार

सार

मृत भाजपा नेता  बालचंद्रन भाजपा के एससी/एसटी विंग के केंद्रीय जिला अध्यक्ष थे। बदमाशों ने सैकड़ों बार उनपर चाकू से वार किया।

ख़बर सुनें

तमिलनाडु भाजपा के एससी/एसटी विंग के केंद्रीय जिला अध्यक्ष बालचंद्रन की मंगलवार को राजधानी चेन्नई के चिंताद्रिपेट इलाके में तीन अज्ञात हमलावरों ने हत्या कर दी। हमलावरों ने बालाचंद्रन पर सैकड़ों बार चाकू से वार किया था। मृतक बालचंद्रन को राज्य सरकार द्वारा एक निजी सुरक्षा अधिकारी (पीएसओ) प्रदान किया गया था क्योंकि उन्हें कई बार बदमाशों ने धमकी दी थी।

बॉडीगार्ड गया था चाय पीने, इतने में ही हो गया हमला
बताया जा रहा है कि राज्य सरकार की तरफ से बालाचंद्रन को निजी सुरक्षा अधिकारी (पीएसओ) मिला था लेकिन दुर्भाग्य से उस दिन वह वारदात के समय ही चाय पीने चला गया था जिसका फायदा बदमाशों ने उठाया और चाकू से ताबड़तोड़ हमले कर दिए। भाजपा नेता की मौके पर ही मौत हो गई।

बाइक पर सवार होकर आए थे हमलावर
जानकारी के अनुसार बाइक पर सवार तीन अज्ञात व्यक्ति बालाचंद्रन की हत्या करने आए थे और वारदात को अंजाम देकर फरार हो गए। चेन्नई के पुलिस आयुक्त शंकर जीवाल ने कहा कि यह हत्या पिछली दुश्मनी का मामला लग रहा है। प्रत्यक्षदर्शियों ने घटना के बारे में बताया है। पुलिस आयुक्त ने कहा कि आरोपी को गिरफ्तार करने के लिए एक विशेष टीम बनाई गई है। मैं यहां यह देखने आया हूं कि कहीं कोई चूक तो नहीं हुई।  

मामले की आगे की जांच जारी: पलानीस्वामी
इस बीच, मामले में आगे की जांच जारी है। पुलिस अधिकारी हत्या स्थल के सीसीटीवी फुटेज खंगाल रहे हैं। तमिलनाडु में विपक्ष के नेता ए.आई.डी.एम.के. के पलानीस्वामी ने राज्य पुलिस की नाकामी का कड़ा विरोध किया। पलानीस्वामी ने ट्विटर पर लिखा कि ”20 दिनों में, 18 हत्याओं की खबरें हैं। इस तरह की घटनाओं ने राजधानी को एक जानलेवा शहर में बदल दिया है, जिससे कानून-व्यवस्था बाधित हो रही है और लोगों की सुरक्षा पर सवाल उठ रहे हैं।”

विस्तार

तमिलनाडु भाजपा के एससी/एसटी विंग के केंद्रीय जिला अध्यक्ष बालचंद्रन की मंगलवार को राजधानी चेन्नई के चिंताद्रिपेट इलाके में तीन अज्ञात हमलावरों ने हत्या कर दी। हमलावरों ने बालाचंद्रन पर सैकड़ों बार चाकू से वार किया था। मृतक बालचंद्रन को राज्य सरकार द्वारा एक निजी सुरक्षा अधिकारी (पीएसओ) प्रदान किया गया था क्योंकि उन्हें कई बार बदमाशों ने धमकी दी थी।

बॉडीगार्ड गया था चाय पीने, इतने में ही हो गया हमला

बताया जा रहा है कि राज्य सरकार की तरफ से बालाचंद्रन को निजी सुरक्षा अधिकारी (पीएसओ) मिला था लेकिन दुर्भाग्य से उस दिन वह वारदात के समय ही चाय पीने चला गया था जिसका फायदा बदमाशों ने उठाया और चाकू से ताबड़तोड़ हमले कर दिए। भाजपा नेता की मौके पर ही मौत हो गई।

बाइक पर सवार होकर आए थे हमलावर

जानकारी के अनुसार बाइक पर सवार तीन अज्ञात व्यक्ति बालाचंद्रन की हत्या करने आए थे और वारदात को अंजाम देकर फरार हो गए। चेन्नई के पुलिस आयुक्त शंकर जीवाल ने कहा कि यह हत्या पिछली दुश्मनी का मामला लग रहा है। प्रत्यक्षदर्शियों ने घटना के बारे में बताया है। पुलिस आयुक्त ने कहा कि आरोपी को गिरफ्तार करने के लिए एक विशेष टीम बनाई गई है। मैं यहां यह देखने आया हूं कि कहीं कोई चूक तो नहीं हुई।

मामले की आगे की जांच जारी: पलानीस्वामी

इस बीच, मामले में आगे की जांच जारी है। पुलिस अधिकारी हत्या स्थल के सीसीटीवी फुटेज खंगाल रहे हैं। तमिलनाडु में विपक्ष के नेता ए.आई.डी.एम.के. के पलानीस्वामी ने राज्य पुलिस की नाकामी का कड़ा विरोध किया। पलानीस्वामी ने ट्विटर पर लिखा कि ”20 दिनों में, 18 हत्याओं की खबरें हैं। इस तरह की घटनाओं ने राजधानी को एक जानलेवा शहर में बदल दिया है, जिससे कानून-व्यवस्था बाधित हो रही है और लोगों की सुरक्षा पर सवाल उठ रहे हैं।”

Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published.