स्‍कूली छात्र देश में पर्यटन को देंगे बढ़ावा, सरकार ने उठाया यह कदम

नई दिल्‍ली. देश में स्‍कूली छात्र (Student) पर्यटन (Tourism) को बढ़ावा देंगे. सरकार ने पर्यटन को बढ़ावा देने के लिए सीबीएसई के स्‍कूलों (CBSE Schools) के साथ खास पहल शुरू की है. इसके लिए सीबीएसई और पर्यटन मंत्रालय के बीच समझौता हो गया है. सीबीएसई से संबद्ध सभी स्‍कूलों में पर्यटन क्‍लब का गठन किया गया जाएगा. पर्यटन को बढ़ावा देने के लिए छात्र क्षेत्रीय भाषा सीखेंगे और भ्रमण भी करेंगे. इससे एक तरफ छात्र पर्यटन को लेकर स्‍वयं जागरूक होंगे, वहीं दूसरी ओर देश की अर्थव्‍यवस्‍था का मजबूत करने में मदद मिलेगी.

पर्यटन मंत्रालय ने ‘आजादी का अमृत महोत्सव’ समारोह के हिस्से के रूप में ‘युवा पर्यटन क्लब’ स्थापित करने की पहल की है. युवा पर्यटन क्लब का उद्देश्य भारतीय पर्यटन के युवा राजदूतों को प्रोत्साहित व उनका विकास करना है. पर्यटन के ये युवा राजदूत भारत में पर्यटन की संभावनाओं के बारे में जागरूक होंगे. समृद्ध सांस्कृतिक विरासत को बढ़ाएंगे और पर्यटन के प्रति रुचि, जुनून को विकसित करेंगे. इन पर्यटन क्लबों में भागीदारी से पर्यटन संबंधी जिम्मेदार गतिविधियों को प्रोत्साहित करने की भी उम्मीद है.

केन्द्रीय माध्यमिक शिक्षा बोर्ड (सीबीएसई) पर्यटन मंत्रालय की इस पहल का समर्थन करने के लिए आगे आया है और उसने सीबीएसई से संबद्ध सभी स्कूलों को युवा पर्यटन क्लब के गठन के संबंध में निर्देश जारी किए हैं. छात्र घरेलू पर्यटन स्थलों के बारे में जागरूक होंगे और पर्यटन क्षेत्र को बढ़ावा देने के लिए उपयुक्त उपकरणों से लैस होंगे. ये पर्यटन क्लब बच्चों को सांस्कृतिक पहलुओं के साथ-साथ अपने राज्य और आसपास के क्षेत्रों के बारे में अधिक जागरूक होने में मदद करेंगे.

पर्यटन मंत्रालय ने ‘स्कूलों के लिए पर्यटन क्लबों के संचालन से संबंधित पुस्तिका’ जारी की है. इसके तहत शिक्षकों और स्कूलों को ‘एक भारत, श्रेष्ठ भारत’ (ईबीएसबी) कार्यक्रम के तहत भ्रमण, ऑनलाइन या ई-पर्यटन, राज्य/केन्द्र – शासित प्रदेश में पत्र मित्र बनाना, राज्य/केन्द्र – शासित प्रदेश की भाषा सीखने में मदद दी जाएगी.

Tags: Cbse, Tourism

Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published.