सेहत के लिए बेस्ट है बेल का जूस, पाचन से लेकर इम्यूनिटी बढ़ाने तक होते हैं कई फायदे

Bael Juice Benefits: गर्मियों के दौरान हम ज्यादातर आम, तरबूज, खरबूजा जैसे कई मौसमी फलों का सेवन करते हैं, लेकिन बेल बहुत ही कम लोग खाते हैं. आप इस भारतीय फल से अपरिचित हो सकते हैं, लेकिन आप इसकी न्यूट्रिशनल वैल्यू को नज़रअंदाज़ नहीं कर सकते. बेल फल जिसे लकड़ी के सेब (wood apple) के रूप में भी जाना जाता है, इसमें कई चिकित्सकीय और औषधीय गुण होते हैं. बेल भारत के सबसे पुराने फलों में से एक है. इसी कारण प्राचीन धार्मिक व आयुर्वेदिक ग्रंथों में इसका खूब वर्णन है. बेल के अलावा, इसके पेड़, पत्तियों तक की विशेषता बताई गई और इन्हें पूजनीय बताया गया है, इसलिए इसका उपयोग धार्मिक उद्देश्यों के लिए भी किया जाता है, जैसे कि पूजा और अनुष्ठान आदि में.

इसी तरह, बेल का जूस भी आपको कई तरह से लाभ पहुंचाता है, क्योंकि ये बीटा-कैरोटीन, कई ज़रूरी मिनरल्स और विटामिन्स से भरपूर होता है, जैसे राइबोफ्लेविन, थायमिन, विटामिन सी आदि. आइए जानते हैं बेल के जूस से हेल्थ को होने वाले फायदों के बारे में.

इम्यूनिटी करे बूस्ट
बेल के जूस में विटामिन सी और एंटीऑक्सीडेंट की मात्रा अधिक होती है, जो आपकी इम्युनिटी को बढ़ाने में मदद करेगा. गर्मियों में इस जूस को पीने से आपको बैक्टीरिया और वायरस से होने वाले संक्रमण से बचने में मदद मिलेगी.

एंटी इंफ्लेमेटरी गुणों से भरपूर
बेल के रस में एंटीऑक्सिडेंट और एंटी इंफ्लेमेटरी गुण होते हैं, इसलिए ये सूजन (inflamed) वाले अंगों को आराम देता है और शांत करता है. गठिया  के आयुर्वेदिक उपचार में बेल के फल के गूदे को अन्य इंग्रिडिएंट के साथ यूज किया जाता है क्योंकि इसमें एंटी इंफ्लेमेटरी गुण होते हैं.

यह भी पढ़ें-
क्या है जो आड़ू को बनाता है गर्मियों का ‘सुपरस्टार’ फल? एक्सपर्ट ने बताए 4 गुण

ब्लड प्यूरीफायर
बेल का जूस ब्लड प्यूरीफायर के रूप में काम करता है, क्योंकि इसमें मिनरल्स होते हैं, जो शरीर से टॉक्सिन्स (विषाक्त पदार्थ) को निकालने में मदद करते हैं. इसके अलावा, ये एक नेचुरल डिटॉक्सिफायर के रूप में काम करता है, जो लीवर और किडनी को हेल्दी रखने में मदद करता है.

कोलेस्ट्रॉल को कंट्रोल करता है
ट्राइग्लिसराइड्स, सीरम और टिशूज लिपिड प्रोफाइल बेल के जूस से प्रभावित होते हैं. नतीजतन,  ब्लड कोलेस्ट्रॉल के लेवल को कंट्रोल करने के लिए नियमित रूप से बेल का जूस लेना आपके लिए एक बेहतरीन ऑप्शन होगा.

पाचन के लिए अच्छा
बेल फल में एंटी-बैक्टीरियल और एंटी-फंगल गुण होते हैं जो गैस्ट्रिक अल्सर को कंट्रोल करते हैं. तो, डाइजेशन से जुड़ी अपनी समस्याओं से बचने के लिए आपको इस जादुई जूस को पीना चाहिए.

यह भी पढ़ें-
क्विनोआ: जानिए ये सुपरफूड कई किलो वजन कम करने में कैसे करता है मदद

स्किन इंफेक्शन को रोके
गर्मी के दिनों में स्किन की समस्याएं और रैशेज लगातार होते रहते हैं. लेकिन आप बेल की अच्छाई से इससे निजात पा सकते हैं. न केवल बेल का जूस बल्कि बेल के पत्ते का तेल भी स्किन को संक्रमित करने वाले सामान्य प्रकार के फंगस से हमें बचाता है. ये स्किन पर चकत्ते और खुजली को ठीक करने में भी मदद करता है.

Tags: Health, Health News, Lifestyle

Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published.