रोज सुबह उठकर करें ये काम, डिमेंशिया का खतरा हो जाएगा कम और आप रहेंगे फिट

हाइलाइट्स

डेली बॉडी मूवमेंट से बॉडी और ब्रेन एक्टिव रहते हैं.
एक्‍सरसाइज से ब्रेन का मेटाबॉलिज्‍म भी इंप्रूव होता है.

Exercises To Prevent Dementia: डेली एक्‍सरसाइज को रुटीन में शामिल करने से न केवल बॉडी को फि‍ट और हेल्‍दी रखने में मदद मिलती है, बल्कि इससे डिमेंशिया के जोखिम को भी कम किया जा सकता है. डिमेंशिया भूलने की बीमारी है, जिसमें व्‍यक्ति चीजों को भूल जाता है. बढ़ती उम्र के साथ नसें कमजोर होने लगती हैं, जिस वजह से डिमेंशिया का खतरा बढ़ जाता है. एक्‍सरसाइज के अलावा नियमित रूप से घर के काम करना, दोस्‍तों और परिवार के साथ मिलना-जुलना और सामाजिक कार्यों में शामिल होना से भी डिमेंशिया को कंट्रोल किया जा सकता है. डेली एक्‍सरसाइज करने से डिमेंशि‍या के खतरे को 35 प्रतिशत तक कम किया जा सकता है. डेली फि‍जिकल एक्‍टीविटी करने से ब्रेन का मेटाबॉलिज्‍म बढ़ता है, जो याददाश्‍त को मजबूत रखने में मदद करता है. चलिए जानते हैं डिमेंशिया के जोखिम को कम करने में कौन सी एक्‍सरसाइज फायदेमंद हो सकती है.

साइकिलिंग
हेल्‍थलाइन के मुताबिक डिमेंशिया के खतरे को कम करने में एक्‍सरसाइस अहम रोल निभाती है. एक्‍टिव रहने के लिए साइकिलिंग एक अच्‍छी एक्‍सरसाइज है. डेली 12 से 15 किलोमीटर साइकिल चलाना एक बढ़िया एक्‍सरसाइज तो है ही, इससे ब्रेन भी एक्टिव बनता है.



स्‍विमिंग
रोजाना आधा घंटा स्‍वीमिंग करना भी दिमाग के साथ शरीर को स्‍वस्‍थ बनाता है. स्‍वीमिंग करने से पूरी बॉडी की एक्‍सरसाइज हो जाती है इसमें हाथ, पैर और दिमाग सभी का उपयोग एक साथ किया जाता है.

वॉकिंग और जॉगिंग
डेली वॉकिंग और जॉगिंग करना भी एक बेहतर एक्‍सरसाइज मानी जाती है. डेली वॉकिंग या जॉगिंग करने से बॉडी तो फि‍ट रहती ही है साथ ही स्‍ट्रेस लेवल भी कम हो सकता है. इससे ब्रेन को आराम मिल सकता है. डेली योगा भी डिमेंशिया को कम करने में मददगार हो सकता है.

इसे भी पढ़ेंः कोरोना काल में ‘तुलसी काढ़ा’ करेगा कमाल, शुगर लेवल रहेगा कंट्रोल

एक निश्‍चित स्‍लीप शेड्यूल
रोज रात को सोने और सुबह उठने का एक निश्‍चित शेड्यूल बनाएं. पर्याप्‍त और अच्‍छी नींद की आदत डालें. सोने से आधे घंटे पहले स्‍क्रीन देखने बंद कर दें. स्‍क्रीन टाइम की जगह सोने से पहले रीडिंग, लिसनिंग म्‍यूजिक और मेडिटेशन किया जा सकता है. इससे अच्‍छी नींद आती है.

इसे भी पढ़ेंः इन लक्षणों से जानें इम्यूनिटी कमजोर होने के बारे में, कोरोना से बचाव के लिए जरूरी

Tags: Health, Health benefit, Lifestyle, Mental health

Source link