दहशत फैलाने की साजिश नाकाम: स्वतंत्रता दिवस से पहले नेशनल हाईवे किनारे RDX बरामद, अलर्ट जारी


ख़बर सुनें

स्वतंत्रता दिवस से दस दिन पहले गुरुवार को अंबाला एसटीएफ की टीम ने हरियाणा के कुरुक्षेत्र जिले में नेशनल हाईवे (अंबाला-नई दिल्ली) स्थित शाहाबाद के नजदीक स्थित मिर्ची रेस्टोरेंट के पास जंगलात इलाके से आरडीएक्स (विस्फोटक सामग्री) बरामद किया है। यह विस्फोटक एक पेड़ के नीचे लिफाफे में छिपाकर रखा गया था। इसके साथ आईईडी, स्विच, टाइमर, बैटरी और डेटोनेटर भी मिला है।

बम निरोधक दस्ते की टीम ने डेढ़ घंटे की मशक्कत के बाद इसे निष्क्रिय कर दिया है। इससे पहले पंजाब के तरनतारन जिले के एक आरोपी को भी काबू किया गया है। उसी के निशानदेही पर यह विस्फोटक सामग्री बरामद हुई है। चूंकि स्वतंत्रता दिवस नजदीक है, इसलिए विस्फोटक सामग्री मिलने के बाद हरियाणा पुलिस ने अलर्ट जारी कर दिया है। आरोपी से पूछताछ जारी है ताकि इस बात का खुलासा हो सके कि इस विस्फोटक का इस्तेमाल कहां होना था और इसके पीछे किस गिरोह का हाथ है। फिलहाल इस घटना से इलाके में सनसनी का माहौल है।

एक मामले में पंजाब के तरनतारन इलाके से पकड़े गए युवक शमेशर सिंह की निशानदेही पर गुरुवार शाम को एसटीएफ की टीम नेशनल हाईवे स्थित शाहाबाद के मिर्ची रेस्टोरेंट के पास पहुंची। इस दौरान टीम ने खोजी कुत्तों की भी मदद से जंगलात इलाके में सर्च अभियान छेड़ा। तभी एक पेड़ के नीचे पॉलिथीन का एक पैकेट पड़ा दिखाई दिया।

बहुत ही एहतियात के साथ बम निरोधक दस्ते की टीम ने उस लिफाफे को अपने कब्जे में लिया और उसे खंगालना शुरू किया। टीम ने जैसे ही लिफाफे को खोला तो उसमें विस्फोटक पाउडर, आईईडी, स्विच, टाइमर, बैटरी और डेटोनेटर मौजूद था।

प्रथम दृष्टया जांच के बाद टीम और कुरुक्षेत्र पुलिस ने दावा किया है कि विस्फोटक पाउडर आरडीएक्स है। एएसपी कर्ण गोयल के अनुसार इस पाउडर के सैंपल को फोरेंसिक साइंस लैब में भेजा जाएगा ताकि यह मालूम चल सके कि इस विस्फोटक की नेचर क्या है।

हाईवे बंद कर विस्फोटक किया निष्क्रिय 
आरडीएक्स बरामद होने के बाद बम निरोधक दस्ते की टेक्निकल टीम ने नेशनल हाईवे को थोड़ी देर के लिए बंद करवा दिया और मौके पर ही सावधानी से इस विस्फोटक सामग्री को निष्क्रिय कर दिया। सूत्रों के अनुसार आरडीएक्स की मात्रा करीब एक से डेढ़ किलो बताई जा रही है मगर पुलिस ने अभी इस संदर्भ में पुष्टि नहीं की है।

पुलिस के अनुसार बरामद सामग्री हाई एक्सप्लोजिव है, जिससे भारी नुकसान हो सकता है। आरडीएक्स निष्क्रिय होने के बाद आरोपी युवक शमशेर सिंह को शाहाबाद थाने लाया गया। उसके खिलाफ केस दर्ज कर पूछताछ की जा रही है।

दहशतगर्द के साथ आरडीएक्स बरामद करना एसटीएफ की बड़ी सफलता है। आरोपी युवक से पूछताछ जारी है ताकि उसकी इस घटना के पीछे नापाक मंसूबे मालूम हो सके। जांच के बाद ही यह पता चल पाएगा कि आरडीएक्स शाहाबाद कैसे पहुंचा, युवक किन दहशतगर्दों से जुड़ा है और युवक किस घटना को अंजाम देना चाहता था। – कर्ण गोयल, एएसपी, कुरुक्षेत्र पुलिस।

विस्तार

स्वतंत्रता दिवस से दस दिन पहले गुरुवार को अंबाला एसटीएफ की टीम ने हरियाणा के कुरुक्षेत्र जिले में नेशनल हाईवे (अंबाला-नई दिल्ली) स्थित शाहाबाद के नजदीक स्थित मिर्ची रेस्टोरेंट के पास जंगलात इलाके से आरडीएक्स (विस्फोटक सामग्री) बरामद किया है। यह विस्फोटक एक पेड़ के नीचे लिफाफे में छिपाकर रखा गया था। इसके साथ आईईडी, स्विच, टाइमर, बैटरी और डेटोनेटर भी मिला है।

बम निरोधक दस्ते की टीम ने डेढ़ घंटे की मशक्कत के बाद इसे निष्क्रिय कर दिया है। इससे पहले पंजाब के तरनतारन जिले के एक आरोपी को भी काबू किया गया है। उसी के निशानदेही पर यह विस्फोटक सामग्री बरामद हुई है। चूंकि स्वतंत्रता दिवस नजदीक है, इसलिए विस्फोटक सामग्री मिलने के बाद हरियाणा पुलिस ने अलर्ट जारी कर दिया है। आरोपी से पूछताछ जारी है ताकि इस बात का खुलासा हो सके कि इस विस्फोटक का इस्तेमाल कहां होना था और इसके पीछे किस गिरोह का हाथ है। फिलहाल इस घटना से इलाके में सनसनी का माहौल है।

एक मामले में पंजाब के तरनतारन इलाके से पकड़े गए युवक शमेशर सिंह की निशानदेही पर गुरुवार शाम को एसटीएफ की टीम नेशनल हाईवे स्थित शाहाबाद के मिर्ची रेस्टोरेंट के पास पहुंची। इस दौरान टीम ने खोजी कुत्तों की भी मदद से जंगलात इलाके में सर्च अभियान छेड़ा। तभी एक पेड़ के नीचे पॉलिथीन का एक पैकेट पड़ा दिखाई दिया।

बहुत ही एहतियात के साथ बम निरोधक दस्ते की टीम ने उस लिफाफे को अपने कब्जे में लिया और उसे खंगालना शुरू किया। टीम ने जैसे ही लिफाफे को खोला तो उसमें विस्फोटक पाउडर, आईईडी, स्विच, टाइमर, बैटरी और डेटोनेटर मौजूद था।

प्रथम दृष्टया जांच के बाद टीम और कुरुक्षेत्र पुलिस ने दावा किया है कि विस्फोटक पाउडर आरडीएक्स है। एएसपी कर्ण गोयल के अनुसार इस पाउडर के सैंपल को फोरेंसिक साइंस लैब में भेजा जाएगा ताकि यह मालूम चल सके कि इस विस्फोटक की नेचर क्या है।



Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published.