तेज हुई जांच : लोक सेवा आयोग पहुंची सीबीआई की टीम, कॉपियों की जांच के साथ कंप्यूटर में दर्ज ब्योरा भी खंगाला

अमर उजाला नेटवर्क, प्रयागराज
Published by: विनोद सिंह
Updated Wed, 30 Mar 2022 10:35 PM IST


सार

सीबीआई की टीम ने आयोग में समीक्षा अधिकारी-2013, पीसीएस जे-2013, लोवर-2013 भर्तियों से जुड़े दस्तावेजों की छानबीन की। कॉपियों को निकलवा कर देखने के साथ ही कंप्यूटर में दर्ज ब्योरे की भी गहराई से छानबीन की।

ख़बर सुनें

उत्तर प्रदेश लोकसेवा आयोग में बुधवार को सुबह एक बार फिर से सीबीआई की टीम पहुंची। आयोग की अप्रैल 2012 से मार्च 2017 तक की भर्ती परीक्षाओं की जांच सीबीआई कर रही है। जांच में सुस्ती पर प्रतियोगी छात्र संघर्ष समिति के अध्यक्ष अवनीश पांडेय ने हाईकोर्ट में याचिका दाखिल की है। माना जा रहा है कि इसके बाद से जांच में तेजी आई है। 

सीबीआई की टीम ने आयोग में समीक्षा अधिकारी-2013, पीसीएस जे-2013, लोवर-2013 भर्तियों से जुड़े दस्तावेजों की छानबीन की। कॉपियों को निकलवा कर देखने के साथ ही कंप्यूटर में दर्ज ब्योरे की भी गहराई से छानबीन की। जांच में सीबीआई को खामियां भी मिली हैं। ऐसे में चर्चा है कि सीबीआई की टीम इस मामले में अब कुछ चयनितों, आयोग के अधिकारियों और कर्मचारियों से जल्द पूछताछ कर सकती है।

आरओ-एआरओ भर्ती 2014 में गड़बड़ी मिली थी

पूर्व में सीबीआई की टीम समीक्षा अधिकारी/सहायक समीक्षा अधिकारी-2014 भर्ती में गड़बड़ी पकड़ चुकी है। इसमें लगभग 50 से अधिक चयनित अभ्यर्थियों के कंप्यूटर प्रमाण पत्र फर्जी होने की आशंका है। टाइप टेस्ट में फेल अभ्यर्थियों को पास करने, ओएमआर शीट में छेड़छाड़ के भी साक्ष्य सीबीआई के हाथ लगे हैं। 

गौरतलब है कि लोक सेवा आयोग की 2012 से 2017 तक की भर्ती परीक्षाओं की जांच सीबीआई कर रही है। एपीएस-2010 में गड़बड़ी मिलने पर तत्कालीन परीक्षा नियंत्रक प्रभुनाथ के खिलाफ रिपोर्ट भी दर्ज हो चुकी है।  लेकिन अभी तक इस मामले में आयोग के किसी अधिकारी की गिरफ्तारी नहीं हुई है और न ही किसी चयनित अभ्यर्थी पर कार्यवाही हुई है। 

मुख्य परीक्षा के लिए करें आवेदन 
उत्तर प्रदेश लोक सेवा आयोग ने प्रवक्ता राजकीय आश्रम पद्धति इंटर कालेज-2021 (मेंस) मुख्य परीक्षा के लिए आवेदन मांगा है। प्रारंभिक परीक्षा सफल अभ्यर्थियों को आयोग की वेबसाइट पर 12 अप्रैल तक आनलाइन आवेदन करना है। वहीं, आनलाइन आवेदन का प्रिंट निकालकर समस्त अंक पत्र व प्रमाण पत्रों के साथ 18 अप्रैल तक आयोग के कार्यालय पर जमा करना होगा। निर्धारित तिथि के बाद बाद किए गए आवेदन को स्वीकार नहीं किया जाएगा। लोकसेवा आयोग ने प्रवक्ता राजकीय आश्रम पद्धति इंटर कालेज परीक्षा-2021 के तहत 124 पदों की भर्ती निकाली है। कुल पदों के सापेक्ष 1773 अभ्यर्थी मेंस (मुख्य परीक्षा) के लिए सफल हुए हैं।

विस्तार

उत्तर प्रदेश लोकसेवा आयोग में बुधवार को सुबह एक बार फिर से सीबीआई की टीम पहुंची। आयोग की अप्रैल 2012 से मार्च 2017 तक की भर्ती परीक्षाओं की जांच सीबीआई कर रही है। जांच में सुस्ती पर प्रतियोगी छात्र संघर्ष समिति के अध्यक्ष अवनीश पांडेय ने हाईकोर्ट में याचिका दाखिल की है। माना जा रहा है कि इसके बाद से जांच में तेजी आई है। 

सीबीआई की टीम ने आयोग में समीक्षा अधिकारी-2013, पीसीएस जे-2013, लोवर-2013 भर्तियों से जुड़े दस्तावेजों की छानबीन की। कॉपियों को निकलवा कर देखने के साथ ही कंप्यूटर में दर्ज ब्योरे की भी गहराई से छानबीन की। जांच में सीबीआई को खामियां भी मिली हैं। ऐसे में चर्चा है कि सीबीआई की टीम इस मामले में अब कुछ चयनितों, आयोग के अधिकारियों और कर्मचारियों से जल्द पूछताछ कर सकती है।

Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published.