कोरोना : बदल रहा है वायरस, केंद्र सरकार ने दिया गहन निगरानी बढ़ाने का आदेश, एहतियात बरतना जरूरी

अमर उजाला ब्यूरो, नई दिल्ली।
Published by: योगेश साहू
Updated Wed, 13 Apr 2022 05:40 AM IST


सार

केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री ने निर्देश दिए हैं कि राज्य सरकारों के साथ संपर्क कर कोविड सतर्कता नियमों के पालन पर जोर दिया जाए। टीकाकरण को लेकर जिला वार स्थिति की समीक्षा हर दिन हो। जिन जिले या राज्य जोखिम की स्थिति में दिखाई दे रहे हैं तो वहां केंद्रीय स्तर पर भी प्रयास तेज करने चाहिए। दरअसल देश में एक्सई स्ट्रेन का पहला केस गुजरात में मिला है।

ख़बर सुनें

कोरोना वायरस लगातार अपने स्वरूप में बदलाव कर रहा है। इसके चलते कई जगहों पर संक्रमण के फिर से मामले भी सामने आने लगे हैं। केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री डॉ. मनसुख मांडविया ने देश भर में निगरानी बढ़ाने का आदेश दिया। मंगलवार को कोरोना के नए एक्सई वैरियंट को लेकर स्वास्थ्य मंत्री ने विशेषज्ञों के साथ बैठक की। नए वैरियंट की पहचान और गहन निगरानी को लेकर भी दिशा निर्देश दिए गए। 

बैठक में राष्ट्रीय तकनीकी सलाहकार समूह के अध्यक्ष डॉ. एनके अरोडा ने यूके, चीन और अमेरिका के हालातों के बारे में जानकारी देते हुए टीकाकरण और एहतियाती खुराक को लेकर जानकारी दी। वहीं, नेशनल सेंटर फॉर डिजीज कंट्रोल के निदेशक डॉ. सुजीत कुमार सिंह ने केरल, मिजोरम, दिल्ली, हरियाणा सहित करीब पांच राज्यों में संक्रमण के मामलों में बढ़ोतरी होने की जानकारी दी। 

हर दिन जिलावार समीक्षा जरूरी
स्वास्थ्य मंत्री ने निर्देश दिए हैं कि राज्य सरकारों के साथ संपर्क कर कोविड सतर्कता नियमों के पालन पर जोर दिया जाए। टीकाकरण को लेकर जिला वार स्थिति की समीक्षा हर दिन हो। जिन जिले या राज्य जोखिम की स्थिति में दिखाई दे रहे हैं तो वहां केंद्रीय स्तर पर भी प्रयास तेज करने चाहिए। दरअसल देश में एक्सई स्ट्रेन का पहला केस गुजरात में मिला है। हालांकि इससे पहले मुंबई में एक केस मिला है, लेकिन उसे लेकर पुष्टि नहीं हुई है। डब्ल्यूएचओ ने इसे बीए.2 स्ट्रेन से 10 फीसदी ज्यादा संक्रमित बताया है। 

ओमिक्रॉन नए वैरियंट को दे रहा बढ़ावा 
बैठक में नीति आयोग के सदस्य डॉ. वीके पॉल और भारतीय आयुर्विज्ञान अनुसंधान परिषद के महानिदेशक डॉ. बलराम भार्गव भी मौजूद रहे। इस दौरान स्वास्थ्य मंत्री ने कहा कि कोरोना के ओमिक्रॉन वैरियंट कई नए वैरियंट को बढ़ावा दे रहा है। इनमें से एक्सई शृंखला के एक्सई व अन्य स्ट्रेन शामिल हैं। फिलहाल ये कोई भी गंभीर त्रासदी पैदा नहीं कर रहा है, लेकिन सतर्कता बरतना बहुत जरूरी है। 

एक दिन में मिले 796 मामले
केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय ने मंगलवार को बताया कि बीते एक दिन में 796 नए मामले सामने आए जबकि सोमवार को 861 केस दर्ज किए गए थे। वहीं कोरोना के कारण 19 लोगों की मौत हो गई। बीते एक दिन में 946 मरीजों को छुट्टी भी दी गई है। इसके चलते अब सक्रिय मरीजों की संख्या 10,889 रह गई है, जो साल 2020 से अब तक की स्थिति में सबसे कम है। मंत्रालय ने बताया कि बीते एक दिन में 19 लोगों की संक्रमण के चलते मौत हुई है। अब तक देश में कोरोना की वजह से 5,21,710 लोगों की मौत हो चुकी है। 

विस्तार

कोरोना वायरस लगातार अपने स्वरूप में बदलाव कर रहा है। इसके चलते कई जगहों पर संक्रमण के फिर से मामले भी सामने आने लगे हैं। केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री डॉ. मनसुख मांडविया ने देश भर में निगरानी बढ़ाने का आदेश दिया। मंगलवार को कोरोना के नए एक्सई वैरियंट को लेकर स्वास्थ्य मंत्री ने विशेषज्ञों के साथ बैठक की। नए वैरियंट की पहचान और गहन निगरानी को लेकर भी दिशा निर्देश दिए गए। 

बैठक में राष्ट्रीय तकनीकी सलाहकार समूह के अध्यक्ष डॉ. एनके अरोडा ने यूके, चीन और अमेरिका के हालातों के बारे में जानकारी देते हुए टीकाकरण और एहतियाती खुराक को लेकर जानकारी दी। वहीं, नेशनल सेंटर फॉर डिजीज कंट्रोल के निदेशक डॉ. सुजीत कुमार सिंह ने केरल, मिजोरम, दिल्ली, हरियाणा सहित करीब पांच राज्यों में संक्रमण के मामलों में बढ़ोतरी होने की जानकारी दी।

हर दिन जिलावार समीक्षा जरूरी

स्वास्थ्य मंत्री ने निर्देश दिए हैं कि राज्य सरकारों के साथ संपर्क कर कोविड सतर्कता नियमों के पालन पर जोर दिया जाए। टीकाकरण को लेकर जिला वार स्थिति की समीक्षा हर दिन हो। जिन जिले या राज्य जोखिम की स्थिति में दिखाई दे रहे हैं तो वहां केंद्रीय स्तर पर भी प्रयास तेज करने चाहिए। दरअसल देश में एक्सई स्ट्रेन का पहला केस गुजरात में मिला है। हालांकि इससे पहले मुंबई में एक केस मिला है, लेकिन उसे लेकर पुष्टि नहीं हुई है। डब्ल्यूएचओ ने इसे बीए.2 स्ट्रेन से 10 फीसदी ज्यादा संक्रमित बताया है।

ओमिक्रॉन नए वैरियंट को दे रहा बढ़ावा 

बैठक में नीति आयोग के सदस्य डॉ. वीके पॉल और भारतीय आयुर्विज्ञान अनुसंधान परिषद के महानिदेशक डॉ. बलराम भार्गव भी मौजूद रहे। इस दौरान स्वास्थ्य मंत्री ने कहा कि कोरोना के ओमिक्रॉन वैरियंट कई नए वैरियंट को बढ़ावा दे रहा है। इनमें से एक्सई शृंखला के एक्सई व अन्य स्ट्रेन शामिल हैं। फिलहाल ये कोई भी गंभीर त्रासदी पैदा नहीं कर रहा है, लेकिन सतर्कता बरतना बहुत जरूरी है।

एक दिन में मिले 796 मामले

केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय ने मंगलवार को बताया कि बीते एक दिन में 796 नए मामले सामने आए जबकि सोमवार को 861 केस दर्ज किए गए थे। वहीं कोरोना के कारण 19 लोगों की मौत हो गई। बीते एक दिन में 946 मरीजों को छुट्टी भी दी गई है। इसके चलते अब सक्रिय मरीजों की संख्या 10,889 रह गई है, जो साल 2020 से अब तक की स्थिति में सबसे कम है। मंत्रालय ने बताया कि बीते एक दिन में 19 लोगों की संक्रमण के चलते मौत हुई है। अब तक देश में कोरोना की वजह से 5,21,710 लोगों की मौत हो चुकी है। 

Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published.