इश्क में बेवफाई: पांच साल मोहब्बत, फिर शादी तक बात पहुंचाकर सिपाही ने प्रेमिका के सामने अचानक रख दी ये डिमांड

इश्क में बेवफाई पर अलीगढ़ में तैनात एक सिपाही कठघरे में है। प्रेमिका ने उसके खिलाफ जगदीशपुरा थाने में धोखाधड़ी, दहेज उत्पीड़न और जान से मारने की धमकी देने की धारा के तहत मुकदमा लिखाया है। पांच साल पहले दोनों की दोस्ती सोशल मीडिया पर हुई थी। युवती का आरेाप है कि शादी का वादा करके सिपाही ने उसे धेाखा दिया। अतिरिक्त दहेज की मांग पूरी नहीं करने पर दूसरी जगह शादी कर ली।
युवती जगदीशपुरा क्षेत्र की निवासी है। उसने पुलिस को बताया कि वर्ष 2017 में उसकी पहचान नरेश कुमार से हुई। कई महीने तक दोनों के बीच मैसेंजर पर चैट हुई। मोबाइल नंबर का आदान-प्रदान हुआ। फोन पर बातचीत होने लगी। सिपाही ने शादी का प्रस्ताव रखा। वह भी तैयार हो गई। परिजनों को बताया। परिजनों ने सिपाही के बारे में छानबीन की। उसने जो बताया एक-एक बात सही थी। उसने घरवालों को भी शादी के लिए तैयार कर लिया। नरेश ने कहा कि पहले बहन की शादी करेगा। उसके बाद अपनी शादी करेगा। वह इंतजार करती रही। नरेश उसके साथ घूमता फिरता रहा। दो वर्ष पहले उसकी बहन की शादी हो गई। उसने नरेश पर शादी का दबाव बनाया। उसने अचानक अतिरिक्त दहेज की मांग रख दी। घरवाले इतना दहेज देने में असमर्थ थे। उसने नरेश को समझाया। 
गुपचुप कर ली शादी  
नरेश ने दूसरी जगह रिश्ता तय कर लिया। गुपचुप शादी कर ली। उसने पूर्व में थाने पर शिकायत की थी। पुलिस ने कोई कार्रवाई नहीं की। पीड़िता इस बार सीधे एसएसपी के समक्ष पेश हुई। एसएसपी सुधीर कुमार सिंह ने प्रारंभिक जांच के बाद मुकदमा दर्ज करने के आदेश दिए। इंस्पेक्टर जगदीशपुरा देवेंद्र शंकर पांडेय ने बताया कि आरोपित सिपाही के खिलाफ मुकदमा दर्ज किया गया है। साक्ष्यों के आधार पर सिपाही के खिलाफ कानूनी कार्रवाई की जाएगी।
फायर सर्विस का सिपाही भी फंसा
पुलिस कर्मियों के खिलाफ भी लगातार शिकायतें आ रही हैं। एसएसपी के समक्ष एक युवती ने पेश होकर फायर सर्विस में तैनात एक सिपाही की शिकायत की। सिपाही पर बेवफाई का आरोप लगाया। युवती अपने चाचा के साथ एसएसपी के सामने पेश हुई थी। एसएसपी ने शिकायत को गंभीरता से लिया। महिला पुलिस कर्मियों को निर्देश दिए कि युवती के बयान दर्ज करें। युवती जो बता रही है उसमें सच्चाई है तो तत्काल मुकदमा दर्ज किया जाए। युवती के बयानों की जांच चल रही है। इस मामले भी मुकदमा लगभग तय है।

 

Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published.