आज से योगीराज 2.0: सीएम योगी और मंत्रिमंडल को पीएम मोदी की बधाई, लोकभवन पहुंचे मंत्री, कुछ ही देर में होगी बैठक

08:15 PM, 25-Mar-2022

मोदी के खास अरविंद शर्मा बने कैबिनेट मंत्री

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के नजदीकी अफसर रहे अरविंद कुमार शर्मा ने कैबिनेट मंत्री पद की शपथ ली है। बीते करीब डेढ़ वर्ष से ही चर्चा हो रही थी कि वह योगी कैबिनेट में महत्वपूर्ण जिम्मेदारी संभालेंगे। कोरोना की दूसरी लहर के दौरान वाराणसी व आसपास के क्षेत्र में उनके कुशल प्रबंधन की काफी तारीफ हुई थी।

एके शर्मा 1988 बैच के आईएएस अफसर हैं। वह प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के बेहद करीबी अफसर रहे हैं। मोदी के गुजरात के मुख्यमंत्री रहने के दौरान एके शर्मा ने उनके साथ 2001 से 2013 तक काम किया। इसके बाद मोदी के प्रधानमंत्री बनने के बाद डेप्यूटेशन पर पीएमओ में आ गए। केंद्र सरकार में वह ज्वाइंट सेक्रेटरी के पद पर रहे और 2017 में एडिशनल सेक्रेटरी बनाए गए। उन्हें बीते वर्ष योगी कैबिनेट में बड़ी जिम्मेदारी देने के कयास लगाए जा रहे थे। शुक्रवार को उन्होंने कैबिनेट मंत्री की शपथ ली।

07:54 PM, 25-Mar-2022

चुनाव हारने के बाद भी केशव प्रसाद मौर्य बनाए गए उप-मुख्यमंत्री

प्रदेश की सियासत में पिछड़ों को भाजपा के पाले में करने वाले डिप्टी सीएम केशव प्रसाद मौर्य बाजीगर निकले। सिराथू विधानसभा क्षेत्र से चुनाव हारने के बाद भी शीर्ष नेतृत्व ने केशव के कुशल चुनाव प्रबंधन को ध्यान में रखते हुए फिर से डिप्टी सीएम की कमान सौंपी है।

2012   में सपा की आंधी में बने थे विधायक

सपा की आंधी में भी केशव मंडल की सभी विधानसभा सीटों पर इकलौते कमल खिलाने वाले विधायक बने थे। इसके बाद केशव का राजनीतिक सितारा बुलंदियों को छूता गया। वर्ष 2014 के लोकसभा चुनाव में भाजपा ने केशव पर भरोसा करके उन्हें प्रयागराज की फूलपुर संसदीय सीट से प्रत्याशी बनाया और वह पार्टी की उम्मीदों पर खरे उतरे। वह जीत हासिल कर लोकसभा पहुंचे। वर्ष 2017 के विधान चुनाव के बाद जब भाजपा प्रचंड बहुमत से सत्ता में आई तो केशव प्रसाद प्रसाद मौर्य को डिप्टी सीएम बनाया गया। इस दौरान उन्हें सांसद पद से इस्तीफा देना पड़ा। माना गया कि केशव प्रसाद मौर्य अपनी हिंदुत्ववादी छवि के साथ ही पिछड़ों का एकमुश्त वोट भाजपा के लिए लेकर आए थे।

07:39 PM, 25-Mar-2022

भाजपा सरकार में लगातार दूसरी बार मंत्री बने 

चौधरी लक्ष्मी नारायण 2002 के चुनाव में रालोद प्रत्याशी तेजपाल सिंह से हार गए। तीसरी बार 2007 में लक्ष्मी नारायण फिर छाता से बसपा के टिकट पर विधायक बने। इस बार उन्होंने रालोद के तेजपाल सिंह को हराया। 2012 का चुनाव वह रालोद के तेजपाल सिंह से हार गए। इस बार भी वह बसपा प्रत्याशी के रूप में ही चुनाव में मैदान में थे। 2017 और 2022 में चौधरी लक्ष्मी नारायण भाजपा की टिकट पर चुनाव लड़े। दोनों बार जीते। 

चौधरी लक्ष्मी नारायण पहली बार 1996 में उद्यान मंत्री बने। दो बार कारागार मंत्री रहे। 2017 में पशु पालन एवं दुग्ध विकास मंत्री बने। 2022 में फिर उन्हें कैबिनेट मंत्री बनाया गया। एलएलबी पास चौधरी लक्ष्मी नारायण की पहचान बड़े जाट नेता के रूप में है। भाजपा ने उन्हें दोबारा कैबिनेट मंत्री बनाकर जातिगत समीकरण साधने का प्रयास किया। 

07:28 PM, 25-Mar-2022

छठी बार कैबिनेट मंत्री बने चौधरी लक्ष्मी नारायण

योगी आदित्यनाथ सरकार में मथुरा के छाता विधायक चौधरी लक्ष्मी नारायण छठी बार मंत्री बने हैं। उनकी पहचान बड़े जाट नेता के रूप में है। भाजपा से पहले वह बसपा शासन में भी मंत्री रह चुके हैं।

07:08 PM, 25-Mar-2022

योगेंद्र ने जीत की लगाई है हैट्रिक

छात्र राजनीति से पार्षद और विधायक तक का सफर तय करने वाले विधायक योगेंद्र उपाध्याय को भी मंत्रिमंडल में स्थान मिला है। वह वर्ष 2012 में आगरा दक्षिण से पहली बार विधायक बने। उन्होंने इस बार दक्षिण विधानसभा सीट पर जीत की हैट्रिक लगाई। उनके पास शुक्रवार सुबह मुख्यमंत्री आवास से बुलावा आया था।

06:57 PM, 25-Mar-2022

मेयर से मंत्री तक का सफर

उत्तराखंड की राज्यपाल रह चुकीं बेबीरानी मौर्य ने मेयर से मंत्री तक सफर तय किया है। वह 1995 में आगरा की मेयर बनी थीं। इसके बाद भाजपा में कई बड़े पदों पर रहीं। अगस्त 2018 में उन्हें उत्तराखंड की राज्यपाल बनाया गया था। 8 सितंबर 2021 को उन्होंने राज्यपाल पद से इस्तीफा दे दिया था। भाजपा ने उन्हें राष्ट्रीय उपाध्यक्ष की जिम्मेदारी सौंपी। विधानसभा चुनाव जीतने के बाद अब उन्हें मंत्री बनाया गया है। 

06:54 PM, 25-Mar-2022

योगी राज पार्ट-2 में अलीगढ़ को और ज्यादा महत्वपूर्ण स्थान

जिले के दो विधायकों को मंत्री बनाया गया है। अतरौली विधायक संदीप सिंह को फिर से राज्यमंत्री (स्वतंत्र प्रभार) बनाया गया है। खैर से विधायक अनूप प्रधान को राज्य मंत्री बनाया गया है।


    खैर विधायक अनूप प्रधान                        अतरौली विधायक संदीप सिंह

06:43 PM, 25-Mar-2022

सीएम योगी और मंत्रियों को पीएम मोदी ने दी बधाई

योगी आदित्यनाथ के दोबारा मुख्यमंत्री बनने पर पीएम मोदी ने उन्हें व उनके मंत्रिमंडल को बधाई दी है। पीएम ने कहा कि मुख्यमंत्री पद की शपथ लेने पर योगी आदित्यनाथ और उनके मंत्रिमंडल को हार्दिक बधाई। पिछले पांच वर्षों में राज्य की विकास यात्रा ने कई अहम पड़ाव तय किए हैं। मुझे विश्वास है कि आपके नेतृत्व में प्रदेश जन आकांक्षाओं को पूरा करते हुए प्रगति का एक और नया अध्याय लिखेगा।

06:40 PM, 25-Mar-2022

शाम सात बजे कैबिनेट की पहली बैठक

शपथ ग्रहण के बाद शाम सात बजे योगी कैबिनेट की पहली बैठक होगी। इसके साथ ही सीएम आवास पर रात्रि भोज का आयोजन किया गया है। जिसमें मंत्रिमंडल के सदस्यों और अतिथियों को खाने पर बुलाया गया है। इसके साथ ही संगठन के कुछ वरिष्ठ अधिकारी भी इसमें शामिल होंगे। 

06:24 PM, 25-Mar-2022

आगरा से दो कैबिनेट मंत्री

सरकार में इस बार आगरा का प्रतिनिधित्व दमदार है। जिले के दो विधायकों को कैबिनेट मंत्री बनाया गया है। मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के पहले कार्यकाल में आगरा के दो विधायकों को राज्यमंत्री बनाया गया था। आगरा ग्रामीण की विधायक बेबी रानी मौर्य और दक्षिण विधायक योगेंद्र उपाध्याय ने मंत्री पद की शपथ ग्रहण ली है। लोगों का कहना है कि दोनों कैबिनेट मंत्री रोजगार दिलाने और स्वास्थ्य सेवाएं सुधारने में कवायद करें। 

06:12 PM, 25-Mar-2022

बुंदेलखंड से दो विधायक बने राज्यमंत्री और स्वतंत्र देव बने कैबिनेट मंत्री

बुंदेलखंड से इस बार योगी कैबिनेट में दो विधायकों को राज्यमंत्री बनाया गया है। इसमें ललितपुर की महरौनी विधानसभा से विधायक मनोहर लाल पंथ और बांदा की तिंदवारी विधानसभा से विधायक रामकेश निषाद शामिल हैं। इसके अलावा स्वतंत्र देव सिंह कैबिनेट मंत्री बनाए गए हैं। मूलत: मिर्जापुर निवासी होने के बावजूद झांसी मंडल के जालौन जनपद को उनकी कर्मभूमि माना जाता है।

06:09 PM, 25-Mar-2022

डिप्टी सीएम ब्रजेश पाठक का सियासी सफर

हरदोई जिले के मूल निवासी एवं लखनऊ जिले से भाजपा विधायक ब्रजेश पाठक का कद योगी सरकार 2.0 में बढ़ गया है। पिछली सरकार में वह कानून मंत्री थे। इस बार उन्हें डिप्टी सीएम बनाया गया है। ब्राह्मण समाज में उनकी पकड़ काफी अच्छी है। यह वजह है कि उनको ब्राह्मणों का चेहरा माना जाता है। पाठक पहली बार अपने गृह जनपद से 2002 में विधानसभा चुनाव कांग्रेस के टिकट पर लड़े थे।

हालांकि बेहद मामूली अंतर से चुनाव हार गये थे। इसके बाद वह बसपा के टिकट पर उन्नाव जिले से लोकसभा का चुनाव लड़ा और जीत दर्ज की। लोकसभा के साथ ही वह राज्यसभा सांसद भी रहे। सियासी हवा भांपते हुए बाद में वह भाजपा में शामिल हो गये थे। 2017 में लखनऊ से विधानसभा चुनाव लड़ा और जीत दर्ज की। इसके साथ ही योगी सरकार के पहले कार्यकाल में कानून मंत्री रहे। आज उनके डिप्टी सीएम बनने पर लखनऊ के साथ ही उन्नाव और हरदोई जिले में हर्ष की लहर है। उनके भाई राजेश पाठक जिले की राजनीति में सक्रिय हैं। घर पर लोगों का तांता लगा हुआ है।

05:44 PM, 25-Mar-2022

सोमेंद्र तोमर ने कैंपस राजनीति से तय किया मंत्री तक का सफर

मेरठ में चौधरी चरण सिंह यूनिवर्सिटी (कैंपस) की राजनीति से शुरू हुआ सोमेंद्र तोमर का सफर मंत्री पद पहुंच गया है। मेरठ की दक्षिण सीट से लगातार दो बार विधायक चुने जाने के बाद उन्हें योगी के मंत्रिमंडल में शामिल किया गया है। मेरठ के लिए खुशी की बात है कि सोमेंद्र तोमर को उत्तर प्रदेश सरकार में राज्यमंत्री बनाया गया है। सोमेंद्र तोमर ने शुक्रवार को लखनऊ में राज्यमंत्री पद की शपथ लेंगे।

05:13 PM, 25-Mar-2022

भारत माता की जय, वंदे मातरम और  योगी-मोदी जिंदाबाद से गूंजा स्टेडियम

शपथ ग्रहण समारोह के बाद पीएम मोदी ने सभी नेताओं से मुलाकात की। साथ ही नेताओं के साथ सामूहिक फोटो खिंचवाई। स्टेडियम में मौजूद नेताओं व कार्यकर्ताओं का अभिवादन स्वीकार किया। पीएम मोदी को अपने बीच पाकर कार्यकर्ता काफी उत्साहित दिखे। इस दौरान पूरा स्टेडियम भारत माता की जय, वंदे मातरम, योगी-मोदी जिंदाबाद के नारे गूंजता रहा।

05:04 PM, 25-Mar-2022

योगी मंत्रिमंडल में इन विधायकों को बनाया गया राज्यमंत्री

  • मयंकेश्वर सिंह
  • दिनेश खटीक
  • संजीव गोंड
  • बलदेव सिंह ओलख
  • अजीत पाल
  • जसवंत सैनी
  • रामकेश निषाद
  • मनोहर लाल मन्नू कोरी
  • संजय गंगवार
  • बृजेश सिंह
  • के पी मलिक
  • सुरेश राही
  • सोमेंद्र तोमर
  • अनूप प्रधान ‘वाल्मीकि’
  • प्रतिभा शुक्ला
  • राकेश राठौर गुरु
  • रजनी तिवारी
  • सतीश शर्मा
  • दानिश आजाद अंसारी
  • विजय लक्ष्मी गौतम


Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published.