आज की बड़ी खबरें: सत्ता के सुपर ओवर में हारे इमरान, आज से लें वैक्सीन की तीसरी खुराक, पढ़ें देश-दुनिया के अहम समाचार

पाकिस्तान में पिछले एक हफ्ते से चल रहे सियासी संकट के बीच पाकिस्तान के प्रधानमंत्री इमरान खान आखिरकार सियासी पिच पर क्लीन बोल्ड हो गए। नेशनल असेंबली में अविश्वास प्रस्ताव पर मतदान टालने का हर प्रयास शनिवार आधी रात बाद नाकाम हो गया।  वहीं, कोरोना के नए वैरिएंट एक्सई के खतरे के बीच केंद्र सरकार ने 18+ आयु वर्ग के लोगों को एहतियाती या बूस्टर खुराक देने का फैसला कर लिया है। यह खुराक आज से लगनी शुरू होगी। आज देश में रामनवमी का पर्व मनाया जाएगा। हर साल चैत्र माह के शुक्ल पक्ष की नवमी तिथि को मर्यादा पुरुषोत्तम प्रभु श्रीराम का जन्मोत्सव मनाया जाता है। इस बार राम नवमी 10 अप्रैल, रविवार को है। ऐसी ही देश-दुनिया की अहम खबरें पढ़ें एक ही जगह और एक ही क्लिक पर…

सत्ता के सुपर ओवर में हारे इमरान, शहबाज शरीफ संभालेंगे कमान

पाकिस्तान के प्रधानमंत्री इमरान खान आखिरकार सियासी पिच पर क्लीन बोल्ड हो गए। नेशनल असेंबली में अविश्वास प्रस्ताव पर मतदान टालने का हर प्रयास शनिवार आधी रात बाद नाकाम हो गया। मध्यरात्रि बाद मतदान में अविश्वास प्रस्ताव पारित कर दिया गया। हार के बाद इमरान ने देर रात पीएम हाउस छोड़ दिया। प्रस्ताव के पक्ष में 174 वोट पड़े। इस दौरान इमरान और उनकी पार्टी के सांसद सदन में गैरमौजूद रहे।

यहां पढ़ें पूरी खबर…

18+ आयु वर्ग के लोगों को आज से लगेगी एहतियाती खुराक

कोरोना के नए वैरिएंट एक्सई के खतरे के बीच केंद्र सरकार ने 18+ आयु वर्ग के लोगों को एहतियाती या बूस्टर खुराक देने का फैसला कर लिया है। यह खुराक रविवार से लगनी शुरू होगी। इसके लिए केंद्र सरकार ने राज्यों के साथ मिलकर तैयारी की है। यहां पढ़ें पूरी खबर…

रामनवमी आज, बन रहा त्रिवेणी संयोग

हर साल चैत्र माह के शुक्ल पक्ष की नवमी तिथि को मर्यादा पुरुषोत्तम प्रभु श्रीराम का जन्मोत्सव मनाया जाता है। इस बार राम नवमी 10 अप्रैल, रविवार को है। रामनवमी पर रवि पुष्य योग, सर्वार्थसिद्धि योग एवं रवि योग का त्रिवेणी संयोग बन रहा है। यहां पढ़ें पूरी खबर…

विश्व होम्योपैथी दिवस : मीठी गोली से अब हर ‘मर्ज’ का इलाज

10 अप्रैल को होम्योपैथी के जनक फेडरिक समुअल हैनीमेन का जन्म हुआ था, इसीलिए इस दिन को विश्व होम्योपैथी दिवस के रूप में मनाया जाता है। किडनी स्टोन, पित्ताशय की सिंगल पथरी, गर्भाशय का ट्यूमर, स्तन की गांठ, शरीर पर होने बाले मस्से, चर्म रोग, एलर्जी, शुरुआती अवस्था में पता लगने वाला हार्निया, बुखार, जुकाम आदि के मामलों में होम्योपैथी से सफल इलाज हुए हैं। यहां पढ़ें पूरी खबर…

Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published.