आगरा: नायरा कंपनी के पंपों पर बंद हुई डीजल-पेट्रोल की बिक्री, नोटिस लगाकर की बैरिकेडिंग

अमर उजाला ब्यूरो, आगरा
Published by: मुकेश कुमार
Updated Mon, 04 Apr 2022 12:08 AM IST


सार

आगरा जिले में नायरा कंपनी के करीब 17 पंप हैं। रूस-यूक्रेन युद्ध के कारण इन पंप पर आवश्यकता के अनुसार आपूर्ति नहीं हो रही है। जिससे बिक्री बंद कर दी गई है।

नायरा कंपनी का पंप
– फोटो : अमर उजाला

ख़बर सुनें

विस्तार

रूस-युक्रेन के युद्ध के कारण निजी कंपनी नायरा के पंपों पर भी डीजल-पेट्रोल की बिक्री बंद हो गई है। आगरा में नायरा के पंपों पर बिक्री बंद का बोर्ड लगाकर बैरीकेडिंग भी कर दी गई है। दो-तीन दिन में आपूर्ति बहाल होने की उम्मीद जताई जा रही है।

पंचकुइयां स्थित कान्हा फ्यूल्स के मालिक सनी खन्ना ने बताया कि जिले में नायरा कंपनी के करीब 17 पंप हैं। रूस और यूक्रेन के युद्ध के कारण बीते सप्ताह से पेट्रोल-डीजल की आपूर्ति प्रभावित हो रही है। आवश्यकता के अनुसार डीजल-पेट्रोल नहीं मिल रहा है। इस कारण पंपों पर अब पेट्रोल-डीजल की बिक्री बंद कर दी है। पंपों पर वाहन चालकों को परेशानी न हो, इसके लिए सूचना भी चस्पा कर दी है। 

सोमवार के बाद होगी आपूर्ति सामान्य

सोमवार के बाद से पेट्रोल-डीजल की आपूर्ति सामान्य होने की जानकारी कंपनी की ओर से दी गई है। मिढ़ाकुर स्थित श्री जी फ्यूल सर्विस के संचालक कुशाल सिंह खिरवार ने बताया कि बीते दो सप्ताह से आपूर्ति प्रभावित हो रही है, इस कारण चार पहिया वाहनों को डीजल-पेट्रोल नहीं दिया जा रहा। एंबुलेंस, दुपहिया वाहन और कृषि वाहनों को ही पेट्रोल-डीजल दे रहे हैं।

रिलायंस के खपत का आधी ही मिल रही आपूर्ति

रिलायंस कंपनी के पंपों पर पेट्रोल-डीजल की आपूर्ति शुरू हो गई है, लेकिन खपत के मुकाबले आधी ही आपूर्ति हो रही है। रोहता स्थित तारा पंप के संचालक चारुल अरोरा ने बताया कि अब खपत के मुकाबले 50-60 फीसदी ही पेट्रोल-डीजल मिल रहा है। इस कारण पंप 12 से 14 घंटे ही संचालित हो रहे हैं। एत्मादपुर के पंप संचालक उमेश जैन ने बताया कि सभी पंपों पर खपत की आधी ही आपूर्ति हो रही है। डीजल-पेट्रोल का भंडारण खत्म होने पर बिक्री बंद करनी पड़ती है।

Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published.