अमर उजाला लघु फिल्म प्रतियोगिता : सम्मान समारोह तीन को, यूपी के उपमुख्यमंत्री ब्रजेश पाठक होंगे विशेष अतिथि

अमर उजाला ब्यूरो, नई दिल्ली।
Published by: योगेश साहू
Updated Fri, 01 Apr 2022 06:24 AM IST


सार

‘हिंदी हैं हम’ अभियान के तहत अमर उजाला लघु फिल्म प्रतियोगिता सम्मान समारोह 3 अप्रैल को लखनऊ में आयोजित किया जाएगा। जाने-माने फिल्म निर्देशक डॉ. चंद्रप्रकाश द्विवेदी मुख्य अतिथि होंगे।

ख़बर सुनें

‘हिंदी हैं हम’ अभियान के तहत अमर उजाला लघु फिल्म प्रतियोगिता सम्मान समारोह 3 अप्रैल को लखनऊ में आयोजित किया जाएगा। जाने-माने फिल्म निर्देशक डॉ. चंद्रप्रकाश द्विवेदी मुख्य अतिथि होंगे। समारोह में उत्तर प्रदेश के उपमुख्यमंत्री ब्रजेश पाठक बतौर विशेष अतिथि उपस्थित होंगे। इस अवसर पर ‘राष्ट्र निर्माण में भारतीय भाषाओं की भूमिका’ विषय पर डॉ. द्विवेदी का व्याख्यान भी होगा।

गौरव मिश्रा की फिल्म ‘हिंदी माथे की बिंदी’ सर्वश्रेष्ठ लघु फिल्म
सर्वोच्च पुरस्कार :
गौरव मिश्रा की फिल्म ‘हिंदी माथे की बिंदी’ सर्वश्रेष्ठ लघु फिल्म चुनी गई है। समारोह में मिश्रा को पुरस्कार स्वरूप 5 लाख रुपये, प्रशस्ति पत्र एवं प्रतीक चिह्न प्रदान किया जाएगा।

पांच विशेष सम्मान : विशेष जूरी द्वारा चयनित 5 श्रेष्ठ लघु फिल्मों को 1-1 लाख रुपये का विशेष पुरस्कार दिया जाएगा। ये हैं शाम्भव पांडे की ‘किताबी कीड़ा’, शिवेन्द्र प्रताप सिंह की ‘धन्यवाद’, अक्षांश योगेश्वर की ‘गाय’, नवीन अग्रवाल की ‘सुकून’ और यशवर्धन गोस्वामी की ‘मदर टंग’।

यह भी पढ़ें : हिंदी हैं हम: बेहतरीन लघु फिल्में बनाकर इन फिल्मकारों ने जीते लाखों के इनाम, जानें इनके बारे में सबकुछ

विस्तार

‘हिंदी हैं हम’ अभियान के तहत अमर उजाला लघु फिल्म प्रतियोगिता सम्मान समारोह 3 अप्रैल को लखनऊ में आयोजित किया जाएगा। जाने-माने फिल्म निर्देशक डॉ. चंद्रप्रकाश द्विवेदी मुख्य अतिथि होंगे। समारोह में उत्तर प्रदेश के उपमुख्यमंत्री ब्रजेश पाठक बतौर विशेष अतिथि उपस्थित होंगे। इस अवसर पर ‘राष्ट्र निर्माण में भारतीय भाषाओं की भूमिका’ विषय पर डॉ. द्विवेदी का व्याख्यान भी होगा।

गौरव मिश्रा की फिल्म ‘हिंदी माथे की बिंदी’ सर्वश्रेष्ठ लघु फिल्म

सर्वोच्च पुरस्कार : गौरव मिश्रा की फिल्म ‘हिंदी माथे की बिंदी’ सर्वश्रेष्ठ लघु फिल्म चुनी गई है। समारोह में मिश्रा को पुरस्कार स्वरूप 5 लाख रुपये, प्रशस्ति पत्र एवं प्रतीक चिह्न प्रदान किया जाएगा।

पांच विशेष सम्मान : विशेष जूरी द्वारा चयनित 5 श्रेष्ठ लघु फिल्मों को 1-1 लाख रुपये का विशेष पुरस्कार दिया जाएगा। ये हैं शाम्भव पांडे की ‘किताबी कीड़ा’, शिवेन्द्र प्रताप सिंह की ‘धन्यवाद’, अक्षांश योगेश्वर की ‘गाय’, नवीन अग्रवाल की ‘सुकून’ और यशवर्धन गोस्वामी की ‘मदर टंग’।

यह भी पढ़ें : हिंदी हैं हम: बेहतरीन लघु फिल्में बनाकर इन फिल्मकारों ने जीते लाखों के इनाम, जानें इनके बारे में सबकुछ

Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published.