अखिलेश जी और भी हैं मानसिक रोगियों की सूची तो योगी जी तक पहुंचाए, समय से होगा इलाज; सपा प्रमुख के बयान पर बोले स्वतंत्रदेव सिंह

गोरखनाथ मंदिर के गेट पर सुरक्षाकर्मियों पर हमला करने वाले आरोपी मुर्तजा को मानसिक रूप से बीमार बताने पर समाजवादी पार्टी अध्यक्ष अखिलेश यादव चौतरफा घिरते नजर आ रहे हैं। डिप्टी सीएम केशव प्रसाद मौर्य के बाद अब कैबिनेट मंत्री स्वतंत्रदेव सिंह ने भी अखिलेश के बयान पर पलटवार किया है। योगी सरकार में जलशक्ति मंत्र स्वतंत्रदेव सिंह ने कहा, अखिलेश जी यदि आपके पास और भी मानसिक रोगियों की कोई सूची है तो उसे योगी जी तक पहुंचाएं, जिससे सभी का समय से उचित इलाज हो सके। इससे पहले केशव प्रसाद मौर्य ने भी सपा प्रमुख पर हमला बोला।
मौर्य ने ट्विट कर लिखा गोरखनाथ मंदिर में हमला करने वाला आतंकवादी है कि अपराधी, यह जांच एजेंसी तय करेगी, परंतु मुस्लिम तुष्टिकरण की राजनीति में अखिलेश यादव का बयान जनता की सुरक्षा का मजाक बनाना है। आतंकवादी, अपराधी कौन है, यह सपा नहीं तय करेगी। उन्होंने आगे लिखा, अखिलेश यादव को कौन समझाए कि आतंकवादी होता ही है मनोरोगी।

संबंधित खबरें

ये हे पूरा मामला
बुधवार को कन्नौज पहुंचे सपा प्रमुख अखिलेश यादव ने कहा था कि पिछले रविवार को गोरखनाथ मंदिर के गेट पर सुरक्षाकर्मियों पर हमला करने वाला मुर्तजा अब्बासी मानसिक रूप से बीमार है और मामले की जांच में इस पहलू पर भी गौर किया जाना चाहिए। उन्होंने यह भी आरोप लगाया था कि भाजपा हर चीज को तिल का ताड़ बनाने में माहिर है। गौरतलब है कि मुर्तजा अब्बासी (30) ने पिछले रविवार रात गोरखपुर स्थित गोरखनाथ मंदिर परिसर में दाखिल होने की कोशिश की थी और जब सुरक्षाकर्मियों ने उसे रोका तो उसने धारदार हथियार से उन पर हमला कर दिया जिसमें पीएसी के दो जवान घायल हो गए थे। उसके बाद मुर्तजा को गिरफ्तार कर लिया गया। इस मामले की जांच उत्तर प्रदेश का आतंकवाद विरोधी दस्ता और विशेष कार्य बल मिलकर कर रहे हैं। जांचकर्ताओं का मानना है कि अब्बासी कट्टर विचारधारा से प्रभावित है। गोरखनाथ मंदिर में गोरखपुर पीठ के महंत और उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ का आवास भी है। हालांकि घटना के वक्त वह वहां मौजूद नहीं थे।

Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published.